अपने अधिकारो के साथ-साथ कर्तव्यो के बारे मे भी सचेत रहे- आकाश कुलहरि, एस.एस,पी (कानपुर)

Posted by: Publlic Akrosh ADMIN Monday 22nd of May 2017 06:12:40 PM

कानपुर नगर में एस.पी. ट्रेनी के रूप में आये आकाश कुलहरि आज कानपुर में एस.एस.पी का पदभार संभाल रहे है. इस माह के हमारे खास मेहमान रहे श्री आकाश कुलहरि, एस.एस,पी (कानपुर) हुए हमारे चीफ एडिटर डा0 प्रदीप तिवारी जी से। प्रस्तुत है उनकी बातचीत के प्रमुख अंश -

प्रश्न-सबसे पहले हम यह जानना चाहते हे कि आप कहां के मूल निवासी है? और आपने अपनी प्रारम्भिक शिक्षा कहां से की है? 
उत्तर-
मै बीकानेर राजस्थान का मूल निवासी हूं मेरी ग्रेजुएशन स्तर की शिक्षा बीकानेर से कॉमर्स में हुयी है उसके बाद मैने जे.एन.यू. से एम.फिल की डिग्री प्राप्त की।


प्रश्न-पुलिस सेवा मे आने की प्रेरणा आपको कहां से मिली, आपके परिवार मे कोइ ऐसा है क्या जिससे आप प्रेरित हुए है?
उत्तर-
मेरी मां का यह सपना था कि उनके बेटे आइ.ए.एस, आइ.पी.एस, बने, और मेरे पास ग्रेजुएशन के बाद दो ही रास्ते थे एक एम.बी.ए. करके कारपोरेट सेक्टर मे जाना क्योकि मैने कम्पनी सेक्रेटरी भी कर रखा था। और दूसरा सिविल सर्विस मे आना। मैं और मेरा छोटा भाई हम दोनो ही सिविल सरवेन्ट है। हमारी मां ही इसकी प्रेरणास्त्रोत है। 


प्रश्न- आपके परिवार में कौन-कौन है?
उत्तर-
मेरे परिवार में मेरे पिता जी, माता जी, हम दो भाई है अैर हमारा परिवार है। 


प्रश्न- आपकी पहली पोस्टिग कहां हुई थी?
उत्तर- 
मेरी पहली पोस्टिंग कानपुर नगर में एस.पी. ट्रेनी के रूप में हुयी थी। उसके बाद मैंने एस.पी. सिटी मुजफफर नगर, ललितपुर, जौनपुर, बरेली, गोरखपुर, वाराणसी मे एस.पी. के पद पर कार्य किया, फिर कानपुर में एस.पी. के पद में भी कार्य किया।


प्रश्न- आप तो जानते है कानपुर की जो स्थिति है यहां मिली-जुली आबादी है? यहां पर बहुत ज्यादा दबाब रहता है इसे कैसे सभाला करेगे आप?
उत्तर-
पुलिस का काम ही ऐसा है कि शहर में शान्ति व्यवस्था बनी रहे, क्राइम कन्ट्रोल में रहे, तीसरा जनता की समस्याओ का निवारण हो सके। यह तीन समस्याये तो हमेशा ही रही है। समाज मे कानून व्यवस्था को बनाये रखने के लिये लाठी चार्ज करने की जगह लोगो के साथ मिलकर लोगो को अपनी बात बताये ओर लोगो की बात सुने तो कानून व्यवस्था सही चलती रहेगी।
   क्राइम कन्ट्रोल करने के लिये हमारी प्रोफेशनल पुलिस फोर्स है क्राइम डिटेक्शन के लिये खासकर क्राइम ब्रान्च मे एस.एस.ओ. की पोस्ट है जो खासतौर पर क्राइम पर काम कर सके। और जनता की समस्या को कम कर सके। जनता की समस्या हम भी सुनते है, और उन्हे सुलझाने का प्रयास करते है। इतना परिवर्तन हुआ है।


प्रश्न- आज के समय मे शहर मे क्राइम और संपुर्ण वातावरण मे क्या नए परिवर्तन हुए है?
उत्तर-
देखिये कही ना कही समाज मे भ्रष्टाचार का बहुत बडा रोल रहा है। भ्रष्टाचार आम जनता से और अपराधी से भी होता है। यह स्वतः परिवर्तन के बारे मे तो मैं नही बता पाऊंगा क्योकि मै चार महीने पहले ही आया हूं और तब से मै इलेक्शन ही देख रहा था पहले क्या था, इसका अनुमान नही है और इलेक्शन के बाद की बात करे तो तब से क्राइम कन्टोल मे ही रहा है और इसके अतिरिक्त लॉ आर्डर के अनुसार भी आप देख रहे होंगे कि 5-6 महीने मे अभी कोई बडी घटना की भी खबर नही सुनाई दी हैै। उसका प्रमुख कारण है कि पुलिस थोडा सतर्कता से काम कर रही है। 


प्रश्न- पहले के मुकाबले मे आज क्या और कौन-कौन से नए कदम उठाए गये है?
उत्तर-
अब आप कानपुर के कुछ बडे-बड़े चौराहे मे जाते है, तो आपको अतिक्रमण थोडा पीछे हटता दिख रहा होगा। जाम की स्थिति से काफी हद तक निजात मिला है। पूर्णतः तो नही लेकिन अभी हमारा इस महीने का जो प्रमुख लक्ष्य है ट्रैफिक को कन्ट्रोल करना, हमारा यह मानना है कि ट्रैफिक कन्ट्रोल रहेगा तो क्राइम भी कन्ट्रोल रहेगा। उसी तरह पब्लिक मे जो शराब का सबसे बडा मुददा है उसे भी काबू करना है। तो अगर पब्लिक मे शराब नही होगी भी तो सडको मे छेडखानी की घटना भी कम घटेगी। और शहर का विकास भी होगा।


प्रश्न- हम अक्सर देखते है कि आम जनता और बडे अधिकारियो जैसे डी.आई.जी. और आई.जी. साहब से तालमेल का अभाव है,?
उत्तर-
प्रोफेशनल नौकरी मे प्रोफशनली सबकी एक ही डिमांड है कि लॉ आर्डर कन्ट्रोल मे रहे जिससे क्राइम कन्ट्रोल रहेगा। जब तक आपसी तालमेल सही होगा, आपसी इगोज नही होगा, तब तो कोई समस्या नही होगी।


प्रश्न- थाने स्तर पे बडा उत्पीडन होता है? उसके लिये आपने क्या कदम उठाये है?
उत्तर-
अब हर थाने मे दो सी.सी.टी.वी. कैमरा लगाये गये है एक तो जहां पर जनसुनवायी होती है और जहां मुंसी बैठता है थाने स्तर पर भ्रष्टाचार पर गिरावट आयी है और दूसरी चीज है आई.जी.आर. एस का भी कुछ हुआ है कि अगर आप अपना दिव्यांश आप सीधा उनके देते हो तो उनको समय बद्ध तरीके से निस्तारण करना ही पडेगा जैसे पासपोर्ट है तो पासपोर्ट पहले दो-तीन महीने में आता था लेकिन अब हर तीन या चार दिन मे जाना ही पडेगा अगर नही जाते है तो थाने के एस.ओ. के खिलाफ कार्यवाही होगी और उसके वेतन से कटौती होगी और जो समस्याये आती थी जैसे चीजो लेन देन की, रूपये की डिमांड की उसमें काफी हद तक कमी आयी है और भी प्रयास किये जा रहे है।


प्रश्न- आजकल शहर में एक्सीडेट के केस कुछ ज्यादा ही हो रहे है? इसके लिए क्या कुछ कदम उठाए जा रहे है?
उत्तर-
इसके लिये एक रिपोर्ट बनायी गयी है। ऐसे ब्लैक स्पॉट स्थान जहॉ पर सबसे पर साल भर मे सबसे ज्यादा एक्सीडेट होते है वहां पर यातायात प्रतिनिधि, लाइट एवं प्रतिक्षेपक की व्यवस्था कराई जा रही है और डी.एम. साहब ने हाल ही में एक ऐसा प्रोजेक्ट दिया है जिस पर हम स्टडी कर रहे है जिसके अर्न्तगत ब्लैक स्पॉट स्थानों पर यातायात उपकरण लगाकर यातायात कन्ट्रोल किया जा सकता है। 


प्रश्न-हाल ही मे कुछ ऐसी घटनाएं सामने आ रही है जहां लोग कानून को हाथ में ले रहे है, जैसे शहर में कई बियर शॉप पर औरतो ने मिलकर हंगामा किया, इसे किस तरह रोका जा सकता है?
उत्तर-
महिलाओ के बीच में शराब को लेकर मत बहुत पुराना है, आदमी अपनी पूरी कमाई शराब में लगा देता है और इससे घरेलू हिंसा जैसी चीजें व्याप्त होती है और हम महिलाओं को लॉ एंड आर्डर के अनुसार डील नही कर सकते, लाठी चार्ज भी नही कर सकते है, जो की बहुत बडी समस्या है। 


प्रश्न-ऐसे में शहर में सुरक्षा के लिये क्या व्यवस्था है? 
उत्तर-
सुरक्षा के लिये कम से कम 138 दारू के ठेके, बियर शॅाप, वाइन शॅाप देखी है जहॉ पर दिक्कत आ सकती है। जिसके आस पास बस्ती है। महिलाये वहां जाकर दिक्कत कर सकती है। तो आप देख रहे होगे पिछले दो तीन दिनों से एक दो घटनाये ही हुई है। ज्यादा हो नही रही है शहर में 148 ऐसे शॉप है जहॉ पुलिस लगी हुई है जहां ऐसे मामले हो रहे है। उनमे भी हम मुकदमे कर रहे है ताकि ऐसा कभी दुबारा ना हो सके।


प्रश्न- कानपुर की जनता के लिये कोई सन्देश? 
उत्तर-
कानपुर की जनता के लिये सन्देश कि आप थोडी सा अपने अधिकारो के बारे में तो सचेत है कर्तव्यो के बारे मे भी सचेत रहे सिटीजन ऑफ इंडिया होने के नाते उन्हे पता होना चाहिए कि उनके क्या-क्या कर्तव्य है, जो मोटर साइकिल चला रहे उनके क्या कर्तव्य होने चाहिए, इसके बाद कही फुटपाथ से सब्जी खरीद रहे है तो अतिक्रमण मे भी कही ना कही वो सपोर्ट कर रहे है इन सब में थोडा सचेत रहे। और बाकी कानपुर पुलिस हमेशा उनके साथ है।         
                               
 धन्यवाद !!

 

Leave a Comment