मुस्लिम बहनों का जीवन नहीं होने दिया जाएगा बर्बाद: अनुप्रिया पटेल

Posted by: राधिका प्रकाश Wednesday 26th of October 2016 04:39:39 PM


मुस्लिम बहनों का जीवन मोदी सरकार किसी भी हालत में बर्बाद नहीं होने देगी। तीन बार मोबाइल से तालाक बोल देने से जिन्दगीभर के रिश्ते नहीं टूटने दिए जाएंगे। इस बड़े मुद्दे को हिन्दू और मुस्लिम के नजरिए से न देखा जाए, बल्कि महिलाओं के सुनहरे भविष्य की सोच के साथ देखा जाना चाहिए। यह बात मंगलवार को शहर के दक्षिण में एक निजी समारोह में भाग लेने आईं केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने पत्रकार वार्ता के दौरान कही।
अनुप्रिया ने कहा कि आजादी के 70 साल पूरे होने के बावजूद आज भी महिलाओं की स्थित दयनीय है। आंकड़े बताते हैं कि कभी दहेज के चलते उसे मारा जा रहा है तो कभी मोबाइल के जरिए तीन बार तालाक बोलकर महिला का शोषण किया जा रहा है। मोदी सरकार सबका साथ और सबका विकास के एजेंडे के तौर पर काम कर रही है। हमारी सरकार तीन तालाक लेने वाले के खिलाफ बड़ी मजबूती के साथ खड़ी है। हमारी मुस्लिम बहनों ने अपने हक के लिए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखकाया है। मोदी सरकार ने अपना जवाब भी दे दिया है। हमारी सरकार संविधान के दायरे में रहकर मुस्लिम बहनों को हक दिलाकर रहेगी। कुछ राजनीतिक दल इसे अपने निजी स्वार्थों के लिए हिन्दू मुस्लिम के एजेंडे के तौर पर पेश कर लोगों को गुमराह कर रहे हैं। जबकि हमारी सरकार किसी धर्म के खिलाफ नहीं बल्कि आधी आबादी के हक के पक्ष पर खड़ी है।घर की लड़ाई के चलते यूपी का विकास ठपकेंद्रीय मंत्री ने कहा कि इस समय सपा के घर की लड़ाई की सजा यूपी की 24 करोड़ जनता भुगत रही है। लॉ इन आर्डर खराब है। रेप, डकैती, लूट और हत्याएं हररोज हो रही हैं। इसे रोकने में सपा सरकार असफल है। चाचा-भतीजे पर माफियाओं का साथ देने का आरोप लगा रहे हैं तो भतीजा भी उन्हें दलाल कह रहे हैं। यूपी में एक नहीं पूरे चार सीएम हैं। जिसकी बानगी कल लखनऊ में देखने को मिली। यह गुंडों का दल है और इन्हें पता है कि अगली सरकार भाजपा और अपना गल की बनने वाली है और लूट के पैसे को किस तरह ठिकाने लगाया जाए उसी के लिए सपा का यह पॉलीटिक्स ड्रामा चल रहा है। 2017 के चुनाव में जनता हमें विजयी बनाती है तो सपा परिवार के कई लोग जेल के पीछे होंगे।सुना है अब टिकट का रेट थोड़ा कम हुआअनुप्रिया पटेल ने बसपा सुप्रीमो पर हमला बोलते हुए कहा कि सुना है कि अब टिकट के रेट में गिरावट आई है। भाजपा और उनके सहयोगी दलों के प्रति लोगों के रुझान की वजह से मायावती ने टिकट के रेट कम कर दिए हैं। चुनाव आते-आते बसपा में सिर्फ मायावती ही बचेंगी। पटेल ने कहा कि यूपी में सपा, बसपा के चलते बेरोजगारा बढ़ी है वहीं इनके और इन्ही के दल के नेताओं की संपत्ति जबरदस्त बढ़ी है। आने वाले चुनाव में जनता इसबार सिर्फ एनडीए के पक्ष में मतदान करेगी। जब अनुप्रिया से पूछा गया कि यूपी में भाजपा आपके दल को कितनी सीटें देगी तो उन्होंने बताया कि भाजपा और अपना दल के जो भी जिताऊ उम्मीदवार होंगे उन्हें ही टिकट दिया जाएगा । रही बात कौन से दल को कितनी सीटें मिलेंगी वह हम सबलोग बैठक कर निर्णय लेंगे।
 

Leave a Comment