पति ने की पत्नी जज की हत्या

Posted by: राधिका प्रकाश Tuesday 11th of October 2016 06:39:27 AM


कानपुर देहात की ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट प्रतिभा गाैतम की हत्या अकेले नहीं हुई थी। उनके साथ उनके जान से भी प्यारे बेटे काे जन्म से पहले ही माैत के घाट उतार दिया गया था। दाे दिनाें की जांच में पुलिस ने पाया है कि यह दाेनाें हत्याएं महिला जज के पति मनु अभिषेक ने ही की हैं। वारदात इतनी दर्दनाक थी कि पाेस्टमार्टम करने वाले डाक्टराें का पैनल भी कुछ पल के लिए घनचक्कर हाे गया था। प्रतिभा ने हत्या के दाैरान कातिल से खूब संघर्ष किया था। उसने अंतिम समय तक जिंदगी के लिए जंग लड़ी, लेकिन कातिल पति उसपर भारी पड़ गया। हत्या से कुछ दिनाें पहले से ही दाेनाें के रिश्ताें में दरारें पड़नी शुरू हाे गई थी। दाेनाें के बीच watsapp चैटिंग में कई चाैंकाने वाली बातें सामने आई हैं। अागे पढ़िए माैत से पहले जज ने की क्या थी फरियाद...
महिला जज और उनके पति के बीच 6 और 7 अक्तूबर को हुई व्हाट्सएप चैटिंग में पति के गुस्सैल-घटिया स्वभाव का पता चलता है तो पत्नी के समझौतावादी लेकिन बहादुर चरित्र का। पति की ओर से संबंधों को तोड़ने की कोशिश तो पत्नी की जद्दोजहद संबंधों को बचाने में समझ आती है।  4 अक्तूबर को पति मनु अपने दोस्तों के साथ मसूरी घूमने चला जाता है और 7 को नई दिल्ली वापस आता है। इस दौरान वह अपनी पत्नी को फोन तक नहीं करता। गर्भवती पत्नी को जब पति के साथ की जरूरत थी तब वह दोस्तों के साथ मौज कर रहा था। गर्भ गिराने का दबाव डालने के लिए मनु का लापरवाह स्वभाव दोषी था या कुछ और, इसके लिए पुलिस भ्रूण का डीएनए टेस्ट करवा रही है।  7 अक्तूबर को प्रतिभा नई दिल्ली आने की बात कहती है तो मनु कानपुर आने की। दोनों कुछ फैसला लेने की चर्चा करते हैं। ये सारी चैटिंग मनु ने प्रतिभा के फोन से तो डिलीट कर दी लेकिन अपने फोन से नहीं कर पाया। शायद उसको लग रहा था कि पुलिस प्रतिभा का फोन तो कब्जे में लेगी लेकिन उसपर कोई शक नहीं करेगा।

 

Leave a Comment