अनेकता में एकता का त्यौहार दिवाली

Posted by: राधिका प्रकाश Saturday 29th of October 2016 03:57:17 PM

मुस्लिम बहुल इलाकों में दिवाली के दीये हिंदू और मुस्लिम मिलकर जलाएंगे। सौहार्द के इन दीपों से माहौल को रोशन करेंगे और शहर की गंगा-जमुनी तहजीब को बनाए रखने का संदेश देंगे। बेकनगंज के दादामियां चौराहे पर हर बार की तरह इस बार भी दोनों समुदाय के लोग मिलकर त्योहार मनाएंगे। 
 
इस मौके पर उन घरों की चौखटों पर भी दीए जलाए जाएंगे, जहां कभी हिंदू परिवार के लोग रहते थे। दादामियां चौराहे पर स्वर्गीय मुंशीराम की जायदाद है।यहां पर मुस्लिम परिवार रहते हैं। उनके पुत्र वेद भाटिया और अशोक भाटिया अब विदेश में रहने लगे हैं लेकिन दोस्त आज भी उनसे बातचीत करते रहते हैं। 
उनके घरों में दिवाली के दीप तहारत मंच के संयोजक डॉ. मुस्तफा तारिक, मुस्लिम बुद्धिजीवी हाजी अरशद सिद्दीकी, शाहिद अजीज, इरफान अंसारी, तौहीद आलम बरकाती आदि लोग जलाते हैं। बेकनगंज रेडीमेड मार्केट में इकलौते हिंदू दुकानदार रामबालक अत्तार के साथ भी मुस्लिम दोस्त साथ में दीप जलाकर आतिशबाजी करते हैं और एक दूसरे का मुंह मीठा कराते हैं।
 

Leave a Comment