अंतराष्ट्रीय महिला दिवस

Posted by: जयंत कुमार Tuesday 7th of March 2017 11:23:22 AM

महिलाओं का न मरने दे सम्मान: अम्बरीष यादव जयन्त(शहर दायरा न्यूज) अंतराष्ट्रीय महिला दिवस 8मार्च को प्रत्येक वर्ष मनाया जाता है। पहली बार अमेरिका ने 1909 में सोसलिस्ट पार्टी ने28 फरवरी के दिन राष्ट्रीय महिला दिवस के रूप में मनाया ,दूसरे राष्ट्रीय महिला दिवस में जर्मनी के क्लारा जेटकिन ने 17 देशो के 100 महिलाओ के सामने इसे अंतराष्ट्रीय महिला दिवस के रूप में मनाए जाने का प्रस्ताव रखा सभी महिलाओं ने इस प्रस्ताव का समर्थन किया। 1911 में 19 मार्च को कुछ देशो ने इसेमनाया, इस अधिकार में महिलाओं को वोट देने का अधिकार, भेदभाव समाप्त करने का अधिकार,काम करने का अधिकार जैसे कई अधिकार शामिल किया गए,इसमे रैली भी निकली गयी जिसमे पुरुष भी शामिल हुए।सयुक्त राष्ट्र ने 1975 में 8 मार्च को इसे अधिकारक अंतराष्ट्रीय महिला दिवस के रूप में मनाने की मान्यता दी। इसी क्रम में कानपुर के बेसिक शिक्षा अधिकारी अम्बरीष यादव ने कहा कि प्रत्येक जूनियर विद्यायल में अंतराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर रैली करके महिलाओ के सषक्तिकरं के विषय पर महिलाओं एवं बालिकाओं को जानकारी दे,स्कूलों में चित्रकला ,विचार-विमर्श ,नाटक आदि कराकर बालिकाओं को उनके अधिकारों के विषय में जागरूप कराये। बेसिक शिक्षा विभाग कानपुर के सर्व शिक्षा अभियान के अंतर्गत बालिकाओं के सशक्तीकरण के लिये मीना मंच,पॉवर ऐंजिल, बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ जैसे कार्यक्रम भी किया जाता है। महिला पखवारा कार्यकम भी चलाये जाते हैं सर्व शिक्षा अभियान आर के वर्मा ने बताया कि इस अवसर पर हम बेटियों को लिंग भेद,महिलाओ के अधिकार एवं उनके साथ बैठक भी करते है और बालिकाओं को उनके अधिकार के लिए प्रशिक्षण भी दिया जाता है।

Leave a Comment