घूमना, फिरना है आपको पसंद तो ऐसे बनें ट्रेवल प्लानर

Posted by: राधिका प्रकाश Thursday 15th of December 2016 07:03:11 AM

क्या आपको घूमना-फिरना पसंद है? नई-नई जगहों के बारे में जानने का आपका मन करता है ? आपको जियोग्राफी पढ़ने में इंटरेस्ट है? यदि ऐसा है तो आपके लिए ट्रेवल प्लानर की जॉब अच्छी हो सकती है
 यदि किसी को ट्रेवल, जियोग्राफी का अच्छा नॉलेज है तो वो बिना किसी कोर्स के भी फील्ड में काम शुरु कर सकता है। स्ट्रीम मायने नहीं रखती।


> जो लोग ट्रेवल एंड टूरिज्म में डिप्लोमा या डिग्री प्रोग्राम करके आते हैं, उन्हें फील्ड में आसानी से एंट्री मिल जाती है।
> 12वीं या ग्रैजुएशन के बाद डिप्लोमा या डिग्री कोर्स करके फील्ड में आया जा सकता है।
 

घूमना, फिरना है आपको पसंद तो ऐसे बनें ट्रेवल प्लानर

फील्ड में क्या करना होगा

> ट्रेवल प्लानर क्लाइंट के लिए पूरा टूर प्लान करते हैं।
> क्लाइंट जिस डेस्टिनेशन पर घूमने जा रहा है वहां का मौसम कैसा है? ठहरने का क्या इंतजाम है? वहां के लोकल कल्चर की क्या खासियत है? वहां घूमने के स्पॉट कौन-कौन से हैं? आने-जाने की टिकिट बुकिंग, होटल बुकिंग, टैक्सी बुकिंग आदि।


कौन से कोर्स किए जा सकते
> 12वीं के बाद यदि आप ट्रेवल एंड टूरिज्म में डिग्री करना चाहते हैं तो तीन साल की ड्यूरेशन के बीए, बीबीए, बीएचटीएम, बीएससी में बैचलर कर सकते हैं।
> ग्रैजुएशन के बाद टूरिज्म में एमए, एमबीए के प्रोग्राम ऑफर किए जा रहे हैं।
> 6 माह का सर्टिफिकेट व 1 साल का पीजी डिप्लोमा भी ऑफर किया जा रहा है।
> ट्रेवल प्लानर बनने के लिए कोई स्पेशिफिक कोर्स अभी तक इंट्रोड्यूस नहीं किया गया है। टूरिज्म के कोर्स के जरिए ही प्लानर बनने के लिए स्किल्स डेवलप की जा सकती हैं।


इंडस्ट्री में एंट्री कैसे मिलेगी
> प्रोफेशनल कोर्स करने के बाद आप ट्रेवल एजेंसी या ट्रेवल कंपनी में इंटर्नशिप करके एक्सपीरियंस गेन कर सकते हैं।
> मेक माय ट्रिप, आईबीबो डॉट कॉम, यात्रा डॉट कॉम में ट्रेनिंग ली जा सकती है। शुरुआत में कंपनियां फ्रेशर्स को ज्यादा पे नहीं करती लेकिन काम सीखने के लिए प्लेटफॉर्म मिलना बड़ी बात है।
> एक्सपीरियंस के बाद आपको इन्हीं कंपनियों में रिक्रूट कर लिया जाता है।
> ऑनलाइन ट्रेवल कंपनी या ऑनलाइन ट्रेवल एजेंसी ही जॉब ऑफर कर रही हैं।
> कुछ सालों के एक्सपीरियंस के बाद आप खुद की एजेंसी भी शुरु कर सकते हैं।

कितनी होती है इनकम
> जॉब में शुरुआत 18 से 20 हजार रुपए से होती है।
> यदि आपका नॉलेज, जियोग्राफी की समझ, फॉरेन लैंग्वेज पर भी कमांड है तो आपको 30 से 35 हजार रुपए शुरुआत में आसानी से मिल जाएंगे।
> ऐसे लोग जो खुद बहुत घूमे-फिरे हैं। जिनकी कम्यूनिकेशन स्किल्स अच्छी है, जिन्हें डेस्टिनेशंस का नॉलेज है वे बिना किसी कोर्स के पार्ट टाइम के तौर पर इस इंडस्ट्री में काम कर सकते हैं।
 

Leave a Comment