बच्चों में पोषण की कमी पूरी करेंगे दूध से बने चिप्स

Posted by: Tauseef Thursday 14th of May 2015 11:25:54 AM

 दूध पीने में आनाकानी करने वाले बच्चों की मांओं के लिये अच्छी खबर है। बरेली स्थित एक राष्ट्रीय अनुसंधान संस्थान ने दूध के बने चिप्स बनाने की तकनीक विकसित की है जिसके बाद ऐसे बच्चों के शरीर में दूध से मिलने वाले पोषक तत्वों की कमी को पूरा किया जा सकेगा।भारतीय पशु अनुसंधान संस्थान (आईवीआरआई) द्वारा ईजाद तकनीक से बनाये जाने वाले चिप्स की तकनीक, ऐसे उत्पाद बनाने वाली कम्पनियों को उपलब्ध करायी जाएगी और उम्मीद है कि आने वाले दिनों दुग्ध चिप्स बाजार में बिकते नजर आयेंगे।

आईवीआरआई के निदेशक आर. के. सिंह ने बताया कि संस्थान ने दूध तथा उससे बनने वाले विभिन्न उत्पादों को लेकर अनेक शोध किये हैं। इसमें वसा निकालने के बाद बचे हुए दूध से भी कई किस्म की वस्तुएं तैयार करने की विधियां ईजाद की गयी हैं। इन्हें जल्द ही सम्बन्धित निर्माता कम्पनियों को उपलब्ध कराया जाएगा।

उन्होंने बताया कि सबसे खास उत्पाद है दूध से बने चिप्स। अक्सर बच्चे दूध पीने में आनाकानी करते हैं। इससे उनके शरीर में पोषक तत्वों की कमी रह जाती है। उन्हें दूध से बने चिप्स खिलाने पर उनमें पोषक तत्वों की कमी की भरपाई की जा सकती है।

सिंह ने बताया कि अन्य चिप्स की तरह दूध के चिप्स भी बाजार में पैकेट में उपलब्ध हो सकेंगे। उन्हें तलकर या फिर माइक्रोवेव में सेंककर भी इस्तेमाल किया जा सकेगा। ये चिप्स व्रत में भी उपयोग किये जा सकेंगे जो अपेक्षाकृत अधिक पोषण भी देंगे।

उन्होंने बताया कि संस्थान ने कम वसा वाला पनीर बनाने की विधि भी विकसित की है। यह आम पनीर की ही तरह दिखायी देगा और उसका स्वाद भी वैसा ही होगा। सिंह ने बताया कि आईवीआरआई अपनी तकनीक को सम्बन्धित कम्पनियों तथा व्यवसायियों को उपलब्ध कराएगा ताकि लोगों को कम दामों में अधिक पोषक उत्पाद मिल सकें।

Leave a Comment