मोदी सरकार तोड़ेगी विनिवेश से धन जुटाने का सात साल का रेकॉर्ड

Posted by: Publlic Akrosh ADMIN Monday 24th of August 2015 11:42:53 AM

इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन (आईओसी) की शेयर बिक्री से 9,300 करोड़ रुपये जुटने की उम्मीद है। ऐसे में सरकार चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में विनिवेश से 12,600 करोड़ रुपये की राशि जुटने की उम्मीद कर रही है। यदि ऐसा होता है तो सात साल में विनिवेश से प्राप्ति मामले में यह बेहतर छमाही साबित होगी।अभी तक सरकार ने तीन सार्वजनिक उपक्रमों पावर फाइनैंस कॉर्पोरेशन (पीएफसी), ग्रामीण विद्युतीकरण निगम (आरईसी) तथा ड्रेजिंग कॉर्पोरेशन में अल्पांश हिस्सेदारी की बिक्री के जरिए 3,300 करोड़ रुपये जुटाए हैं। सरकार सोमवार को इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन में 10 प्रतिशत हिस्सेदारी की बिक्री करेगी। 

विनिवेश सचिव अराधना जौहरी ने कहा, 'हम पहले ही तीन निर्गमों को पूरा कर चुके हैं और चौथा सोमवार को आएगा। हालांकि, पहली छमाही में अभी एक माह का समय बचा है, लेकिन पिछले सात वित्त वर्ष में यह हमारे लिए सबसे बेहतर छमाही रहेगी।'

वित्त वर्ष 2014-15 में विनिवेश विभाग ने एक भी सार्वजनिक उपक्रम में हिस्सेदारी की बिक्री नहीं की थी। वहीं, 2013-14 में छह सार्वजनिक उपक्रमों में हिस्सेदारी बिक्री के जरिए 1,300 करोड़ रुपये जुटाए गए थे। सरकार की आईओसी में 68.6 प्रतिशत हिस्सेदारी है। 

सरकार का मकसद बिक्री पेशकश (ओएफएस) के जरिए 24.28 करोड़ शेयरों की बिक्री का है। जौहरी ने बताया कि आईओसी की शेयर बिक्री में जिन निवेशकों को शेयर आवंटित होंगे, वे 6.60 रुपये प्रति शेयर के लाभांश के पात्र भी होंगे। आईओसी के निदेशक मंडल की 29 मई को हुई बैठक में इस लाभांश की घोषणा की गई थी।

Leave a Comment