सिर्फ यूपी में ही नहीं, बल्कि पूरे देश में बंद हों बूचड़खाने: आजम खान

Posted by: अंकित शुक्ला Tuesday 28th of March 2017 04:24:59 PM

समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान ने देश के सभी बूचड़खानों को बंद करने की मांग उठाई है. उन्होंने कहा, मैं सिर्फ बूचड़खानों पर प्रतिबंध लगाने का ही समर्थन नहीं करता हूं, बल्कि लंबे समय से कह रहा हूं कि बूचड़खाने पूरी तरह से बंद होने चाहिए. वह उत्तर प्रदेश में अवैध बूचड़खानों पर योगी सरकार की ओर से प्रतिबंध लगाए जाने पर प्रतिक्रिया दे रहे थे.

सोमवार को सपा नेता आजम ने कहा कि सिर्फ अवैध बूचड़खाने पर ही नहीं, बल्कि सभी बूचड़खानों के खिलाफ एक समान कार्रवाई होनी चाहिए. महज एक राज्य में ही नहीं, बल्कि पूरे देश में बूचड़खानें बंद होने चाहिए. एक सवाल के जवाब में आजम ने कहा , गौ हत्या पर पूरे देश में रोक लगनी चाहिए. केरल, पश्चिम बंगाल और त्रिपुरा में गौ हत्या कानूनी है, लेकिन दूसरे राज्यों में ऐसा नहीं है. मैं सिर्फ बूचड़खानों पर प्रतिबंध लगाने का ही समर्थन नहीं कर रहा हूं, बल्कि लंबे समय से बूचड़खानों को पूरी तरह से बंद करने की बात कर रहा हूं.

उन्होंने कहा कि किसी को भी पशु हत्या नहीं करनी चाहिए. ऐसे में कानूनी और गैर कानूनी क्या होता है? सिर्फ गैर कानूनी ही नहीं, बल्कि सभी बूचड़खानें बंद होने चाहिए. किसी भी पशु को नहीं काटा जाना चाहिए." आजम खान ने कहा कि कानूनी रूप से पशु को काटने की इजाजत कैसे दी जाए सकती है?

योगी सरकार की मंशा पर उठाए सवाल
गौ हत्या रोकने की योगी सरकार की मंशा पर सवाल उठाते हुए आजम खान ने कहा कि अगर सरकार पशुओं के काटने पर रोक लगाना चाहती है, तो वैध या अवैध बूचड़खाने क्या होते हैं? उन्होंने कहा कि अगर पशुओं को काटना गलत है, तो फिर वैध बूचड़खानों में पशुओं के काटने की इजाजत क्यों ? यह कैसी मंशा है कि अगर वैध बूचड़खाने में पशुओं को काटा जाता है, तो ठीक है और यदि अवैध बूचड़खाने में काटा जाता है, तो गलत है. उन्होंने कहा कि देश के सभी बूचड़खाने बंद होने चाहिए. पशुओं को काटने की तनिक भी इजाजत नहीं होना चाहिए.

मुसलमानों को मांस नहीं खाने की सलाह
सपा नेता आजम खान ने मुसलमानों को मांस नहीं खाने की सलाह दी है. उन्होंने कहा, मैं मुस्लिम बिरादरी से अपील करता हूं कि वे मांस नहीं खाने पर विचार करें. इस्लाम में यह जरूरी नहीं है कि मुसलमान को मांस खाना चाहिए. लिहाजा लोगों को मांस खाना बंद कर देना चाहिए. दरअसल, बूचड़खानों पर प्रतिबंध लगाने को लेकर मांस विक्रेताओं ने यूपी सरकार के खिलाफ हड़ताल पर जाने का फैसला किया है. इस पर सूबे के मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा था कि सरकार सिर्फ अवैध बूचड़खानों के खिलाफ कार्रवाई करेगी. ऐसे में वैध बूचड़खानों को चिंता करने की जरूरत नहीं है.

Leave a Comment