सपा के संग्राम पर कांग्रेस की पैनी नजर, अखिलेश से गंठबंधन को तैयार

Posted by: Publlic Akrosh ADMIN Wednesday 11th of January 2017 06:23:12 PM

 मुलायम और अखिलेश में गृहयुद्ध जारी है. घर के झगड़े में समाजवादी पार्टी और चुनाव चिन्ह साइकिल का क्या होगा ये कहना किसी के लिए संभव नहीं है. मुलायम अध्यक्ष पद चाहते हैं तो अखिलेश अध्यक्ष बने रहने पर अड़े हुए हैं. बाप-बेटे के इस झगड़े पर कांग्रेस की पैनी नजर है और इस झगड़े के नतीजे से ही गठबंधन के दरवाज़े खुलेंगे या बंद होंगे.

आज मुलायम को दिल्ली आना था, लेकिन अब उनका दिल्ली आना टल गया है. इसी तरह ये खबर आई थी कि वो लखनऊ में प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे, लेकिन अब ये भी टल गया.

सूत्रों का कहना है कि समाजवादी पार्टी के संग्राम पर कांग्रेस करीबी नज़र बनाए हुई है. अगर अखिलेश अलग लड़े और पार्टी का निशान साइकिल न भी मिले तो भी गठबंधन की संभावनाएं ज़्यादा हैं. अगर पिता और पुत्र में समझौता हुआ तो गठबंधन होने की संभावना न के बराबर रह जाएंगी, क्योंकि मुलायम गठबंधन से इनकार कर चुके हैं.

 परसों चुनाव आयोग साइकिल चुनाव चिन्ह पर सुनवाई करेगा. तब तक समाजवादी दंगल कहां जाएगा किसी को पता नहीं. मुलायम कैंप के गायत्री प्रजापति ने परसों शाम को ही पिता-पुत्र की फोन पर बात कराई. इस बातचीत में अखिलेश ने कहा, साइकिल चुनाव चिन्ह बचाना है, इसलिए आप चुनाव आयोग से ज्ञापन वापस ले लीजिए.

Leave a Comment