ममता की सुरक्षा-नोटबंदी पर संसद में हंगामा, लोकसभा पूरे दिन के लिए स्थगित

Posted by: राधिका प्रकाश Thursday 1st of December 2016 06:58:49 AM

संसद के दोनों सदनों में आज पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी की सुरक्षा को लेकर तृणमूल सांसदों ने हंगामा किया. ममता की पार्टी टीएमसी का आरोप है कि सीएम ममता बनर्जी को जाने से मारने की साजिश रची जा रही है. वहीं लोकसभा में आज पूरे दिन नोटबंदी को लेकर हंगामा होता रहा. जिसके बाद लोकसभा की कार्यवाही एक बार के स्थगन के बाद 12 बजकर 25 मिनट पर पूरे दिन के लिए स्थगित कर दी गई.
टीएमसी की तरफ से लगाए गए इन आरोपों के बाद केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा ने आश्वासन दिया है कि इस तरह की चूक करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी और विमान में कम ईंधन की जांच भी की जाएगी. वहीं लोकसभा में नागरिक उड्डयन मंत्री अशोक गजपति राजू ने कहा कि डीजीसीए ने तीन विमानों में कम ईंधन होने के मामले में जांच का आदेश दिया है, जिनमें से कोलकाता उतरने वाले एक विमान में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सवार थीं.

क्या है पूरा मामला

कोलकाता स्थित एनएससीबीआई हवाईअड्डे पर बुधवार रात इंडिगो एयरलाइन का एक विमान आधे घंटे से अधिक समय तक शहर के आसमान में चक्कर लगाता रहा जिसमें पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सवार थीं.

एयरपोर्ट अधिकारियों ने कहा कि विमान ने पटना से निर्धारित समय से एक घंटे देरी से शाम सात बजकर 35 निनट पर उड़ान भरी और यहां तकनीकी कारणों से आसमान में आधे घंटे से अधिक समय तक चक्कर लगाने के बाद रात नौ बजे से कुछ समय पहले उतर गया था.

तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं राज्य के शहरी विकास मंत्री फिरहद हकीम, ममता के साथ उसी विमान में थे. उन्होंने यद्यपि विमान के उतरने के लिए एटीसी से ”अनुमति मिलने में देरी” पर कड़ी आपत्ति जताई और आरोप लगाया कि यह मुख्यमंत्री को मारने का एक षड्यंत्र है. हकीम ने दावा किया कि पायलट ने कोलकाता से 180 किलोमीटर दूर घोषणा की कि विमान पांच मिनट के भीतर उतर जाएगा, विमान अंतत: आधे घंटे से अधिक समय बाद उतरा.

उन्होंने कहा, पायलट ने विमान को उतारने के लिए एटीसी से अनुमति मांगी क्योंकि विमान में ईंधन कम था लेकिन एटीसी ने विमान को रोके रखा. हकीम ने कहा, यह और कुछ नहीं बल्कि हमारे मुख्यमंत्री की हत्या का षड्यंत्र था क्योंकि उन्होंने नोटबंदी के खिलाफ आवाज उठाई है और जनविरोधी निर्णय के खिलाफ जन आंदोलन के लिए देश का दौरा कर रही हैं. संपर्क किए जाने पर एटीसी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि उन्हें ऐसी किसी घटना की जानकारी नहीं है.

Leave a Comment