फिजी की संसद को PM मोदी ने किया संबोधि‍त, 70 मिलियन डॉलर मदद की घोषणा

Posted by: Publlic Akrosh ADMIN Wednesday 19th of November 2014 03:59:24 PM

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी एकदिवसीय यात्रा पर फिजी पहुंचे. फिजी के प्रधानमंत्री फ्रैंक बैनीमरामा ने उनकी अगवानी की और जोरदार ढंग से स्वागत किया, वहीं बुधवार को मोदी ने फिजी की संसद को संबोधित किया. इस मौके पर प्रधानमंत्री ने फिजी के लोगों के लिए वीजा ऑन अराइवल की घोषणा की और फिजी को 70 मिलियन डॉलर की मदद देने का भी ऐलान किया. पीएम मोदी ने फिजी समकक्ष बैनीमरामा के साथ द्विपक्षीय बातचीत की, जिसके बाद दोनों देशों के बीच तीन मुद्दों पर करार किए गए. इस मौके पर प्रधानमंत्री मोदी ने फिजी को 70 मिलियन डॉलर की मदद की घोषणा की. साथ ही ग्रामीण उद्यमों और छोटे व्यवसाय को प्रोत्साहन के लिए 5 मिलियन डॉलर देने की भी घोषणा की गई. संसद को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा, 'मैं फिजी को सफल चुनाव के लिए शुभकामना देता हूं. फिजी और भारत के बीच एक समानता यह है कि दोनों ही देशों के संसद में महिला स्पीकर है. लोकतंत्र फिजी और भारत को जोड़ता है. फिजी का विकास एक महान विजन के साथ एक छोटे देश के आगे बढ़ने का सुनहरा उदाहरण है. फिजी जलवायु परिवर्तन में भी अहम रोल निभा रहा है.'  अपने संबोधन में मोदी ने आगे कहा कि इतिहास में भी भारत और फिजी का जुड़ाव है और यही कारण है कि यहां बड़ी संख्या में भारतीय रहते हैं. हमें दोनों देशों के बीच व्यापार और निवेश के साथ ही आवागमन को भी सरल बनाने की जरूरत है. पीएम ने कहा, 'हम डिजिटल फिजी के लिए साथ मिलकर काम करने के लिए तैयार हैं. हम फिजी के साथ सौर और वायु उर्जा के क्षेत्र में काम करने की दिशा में आगे बढ़ना चाहते हैं.'  इससे पहले ऑस्ट्रेलिया के चार शहरों के व्यस्ततम दौरे के बाद मोदी मेलबर्न से भारतीय वायु सेना के एक विशेष विमान से मंगलवार रात फिजी की राजधानी सूवा पहुंचे. तीन देशों की दस दिवसीय यात्रा पर निकले मोदी के दौरे का आखिरी पड़ाव फिजी है. पिछले सप्ताह वह पूर्वी एशिया और आसियान शिखर सम्मेलन में शामिल होने के लिए म्यामांर गए थे. सूवा पहुंचने पर फिजी के प्रधानमंत्री बैनीमरामा ने मोदी की अगवानी की. फिजी के दौरे में मोदी बैनीमरामा के साथ द्विपक्षीय वार्ताएं करेंगे और 12 प्रशांत आईलैंड देशों के नेताओं व प्रतिनिधियों से मिलेंगे.  भारत से रवाना होने से पहले फिजी के बारे में मोदी ने कहा था कि सितंबर माह में लोकतंत्र की वापसी के बाद इस देश की यात्रा करना उनका विशेषाधिकार होगा. मोदी ने कहा था हमारे मंगल मिशन में सहयोग देते हुए उन्होंने हमारे वैज्ञानिकों की अपने यहां मेजबानी की जिसके लिए हम उनके आभारी हैं. फिजी जाने को लेकर वह रोमांचित हैं क्योंकि वहां उन्हें 12 पैसेफिक आइलैंड देशों के नेताओं और प्रतिनिधियों से मिलने का अवसर मिलेगा. मोदी से पहले साल 1981 में इंदिरा गांधी बतौर प्रधानमंत्री फिजी गई थीं.  

Leave a Comment