नीतीश राष्ट्रपति पद के लिए उपयुक्त, पीएम के लिए सिर्फ राहुल: कांग्रेस

Posted by: अंकित शुक्ला Wednesday 3rd of May 2017 05:25:41 PM

राष्ट्रपति चुनाव को लेकर बिहार का सियासी माहौल भी बदला-बदला सा नजर आ रहा है. खासकर कांग्रेस पार्टी के नेता इसे लेकर अपनी ओर से विचार व्यक्त कर रहे हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जदयू लगातार जहां नीतीश कुमार को पीएम पद का दावेदार बताने से नहीं चुकती है, वहीं कांग्रेस राहुल के अलावा इस पद के लिए किसी और को योग्य नहीं मानती. हां, बिहार के कांग्रेसी नेता नीतीश कुमार को राष्ट्रपति पद का उपयुक्त उम्मीदवार मान रहे हैं. बिहार की सत्ता में शामिल महागठबंधन के घटक दल राजद और जदयू नीतीश के राष्ट्रपति बनने की बात से साफ इनकार कर रहे हैं. वहीं, दूसरी ओर इस चर्चा के बीच एनडीए नेताओं की ओर से यह कहा जा रहा है कि नीतीश कुमार के लिए ना तो  प्रधानमंत्री का पद खाली है और ना ही राष्ट्रपति पद का. हाल में विरोधी दल के नेता प्रेम कुमार ने यहां तक कहा था कि नीतीश कुमार का पीएम बनने का सपना मात्र सपना बनकर रह जायेगा. पीएम पद की कोई वैकेंसी नहीं है.

हाल के दिनों में अखबारों में इस बात पर जोर-शोर से चर्चा चली की राष्ट्रपति पद के उपयुक्त उम्मीदवार नीतीश कुमार हैं, लेकिन बाद में जदयू के राष्ट्रीय महासचिव और वरिष्ठ नेता केसी त्यागी ने इसका खंडन किया. मीडिया से बातचीत में सदन में मुख्य सचेतक दिलीप चौधरी ने कहा कि यदि नीतीश कुमार का नाम राष्ट्रपति पद के लिए सामने आता है तो वह विपक्ष के सबसे उपयुक्त उम्मीदवार होंगे. वहीं एक क्षेत्रीय चैनल से बातचीत में कांग्रेस प्रवक्ता और वरिष्ठ नेता प्रेमचंद्र मिश्रा ने कहा कि बिहार से कोई राष्ट्रपति बनता है तो इससे अच्छी बात भला क्या हो सकती है. हालांकि, नीतीश के राष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवार बनने की बात से ना तो जदयू साफ इनकार कर रही है और ना ही राजद. वहीं दूसरी ओर जदयू के कई नेता यह कह रहे हैं कि यह सब बातें बस यूं ही राजनीतिक गलियारों में तैर रही हैं. इसका कोई मतलब नहीं बनता है.

उधर एनडीए के मुख्य घटक दल हम के नेता जीतन राम मांझी का कहना है कि नीतीश कुमार के लिए पूरी तरह एनडीए की खिड़की खुली है, देखिए आगे क्या होता है. मांझी आगे यह भी जोड़ते हैं कि नीतीश कुमार के लिए इन दोनों पदों में से कोई भी पद खाली नहीं है. गौरतलब हो कि राष्ट्रपति पद का चुनाव आगामी जुलाई महीने में होने वाला है. अभी से इस पद को लेकर विपक्ष में टकराव की स्थिति बन रही है. आने वाले दिनों में मामला और भी दिलचस्प मोड़ ले सकता है.

Leave a Comment