नई शिक्षा नीति के तहत लोग दोबारा पढ़ाई शुरू कर सकेंगे: स्मृति ईरानी

Posted by: Publlic Akrosh ADMIN Thursday 6th of November 2014 04:27:01 PM

नई दिल्ली । देश की शिक्षा प्रणाली में बड़ा सुधार करने की दिशा में सरकार इस महीने एक ऐसा निर्णय करने जा रही है जिससे रोजगार के लिए पाठ्यक्रम बीच में छोड़े वाले व्यक्ति को दूसरे संस्थान से आगे की पढाई फिर शुरू करने पर पूर्व में पूरे किए गए पाठ्यक्रम का लाभ मिल सकता है। इसके लिए पूर्व में समकक्ष पाठ्यक्रम में अर्जित साख के अंतरण की व्यवस्था की जाएगी। इसके अलावा, सरकार अगले साल एक नयी शिक्षा नीति लाने की संभावना तलाश रही है। मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने आज यह जानकारी दी।  जिनीवा स्थित विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) और उद्योग मंडल सीआईआई द्वारा यहां आयोजित भारत आर्थिक शिखर सम्मेलन में ईरानी ने कहा कि सबसे बड़ी चुनौती ऐसी व्यवस्था की कमी है जिसके जरिए पूर्व में अपनी पढ़ाई अधूरी छोड़ चुके लोग बाद में उसे जारी रख सकें। इस तरह की व्यवस्था नहीं होने से कई लोग जो नौकरी-पेशा में चले गए, अपना अध्ययन जारी रखने में असमर्थ हैं।  ईरानी ने खुद अपना उदाहरण देते हुए कहा, मैं एक कामकाजी पेशेवर थी और नौकरी में बने रहने के लिए मुझे शिक्षा व्यवस्था से बाहर होना पड़ा। सरकार 11 नवंबर को शिक्षा दिवस पर पहली बार ऐसी व्यवस्था शुरू करने जा रही है। इस नई व्यवस्था से एक शिक्षण संस्थान में की गई अधूरी पढ़ाई दूसरे संस्थान में पूरी करने में मदद मिलेगी।  उन्होंने कहा कि साख की समकक्ष अंतरण व्यवस्था नौवीं कक्षा और उससे उपर के पाठ्यक्रमों के लिए होगी और जनवरी, 2015 में यह पीएचडी कार्यक्रमों तक उपलब्ध होगी। देशभर में केंद्रीय विश्वविद्यालयों को इसके लिए व्यवस्था करने की सलाह दी गई है।  

Leave a Comment