अखिलेश के घर 148 विधायक पहुंचे, कुछ देर में मुलायम की भी बैठक होगी शुरू

Posted by: Publlic Akrosh ADMIN Saturday 31st of December 2016 04:16:47 PM

यूपी में विधानसभा चुनाव से पहले मुलायम सिंह यादव परिवार बिखर चुका है. एसपी मुखिया मुलायम सिंह यादव ने शुक्रवार को अनुशासनहीनता के आरोप में बेटे अखिलेश और चचेरे भाई रामगोपाल यादव को 6 साल के लिए पार्टी से निकाल दिया. मुलायम ने कहा कि रामगोपाल अखिलेश का भविष्य खराब कर रहे हैं. उन्होंने बिना हक पार्टी का राष्ट्रीय अधिवेशन बुलाने का ऐलान किया है. एसपी मुखिया ने कहा कि इन सबमें अखिलेश भी रामगोपाल के साथ हैं, लिहाजा दोनों को पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है. इस डेवलेपमेंट के बाद बैठकों का दौर शुरु हो गया है.

सपा प्रमुख ने शुक्रवार को अखिलेश और महासचिव रामगोपाल को कारण बताओ नोटिस जारी करने के महज पौन घंटे के अंदर दोनों को पार्टी से निकालने का फरमान सुना दिया. उन्होंने कहा कि पार्टी बचाने के लिये उन्हें ऐसा सख्त कदम उठाया है. मुलायम ने रामगोपाल द्वारा आगामी एक जनवरी को पार्टी के राष्ट्रीय प्रतिनिधि सम्मेलन बुलाये जाने को अवैध करार देते हुए कहा कि इसका अधिकार केवल राष्ट्रीय अध्यक्ष को है. रामगोपाल के कदम से पार्टी को नुकसान हुआ है और चूंकि रामगोपाल के कृत्य में अखिलेश का भी समर्थन है, इसलिये उन्हें भी पार्टी से छह साल के लिये निकाल दिया गया है.

रामगोपाल यादव ने उन्हें और अखिलेश को निष्कासित करने के फैसले को अवैध बताया है और पार्टी प्रमुख पर असंवैधानिक गतिविधियों में शामिल होने का आरोप लगाया. बागी रामगोपाल ने कहा कि वह अब भी सपा के महासचिव हैं और रविवार को उनके द्वारा बुलाई गई बैठक किसी भी हालत में होगी.

Leave a Comment